Responsive Ad Slot

Nature

Nature

Love आजकल.........(Online प्यार) Last part

शुक्रवार, 6 अगस्त 2021

/ by Prem yadav


रॉनी एक फैमिली फंक्शन में एक लड़की को देखा। पता चला था कि वो उसकी बहन की ही दोस्त है। रॉनी अपनी बात अपने बहन से शेयर करना चाह रहा था लेकिन गलती से उस लड़की रूही से ही बोल दिया। उस समय तो रुही कुछ नही बोली। रॉनी उसका जबाब का इंतेज़ार कर रहा था।.... अब आगे
अगले दिन रॉनी के व्हाट्सएप पर एक मैसेज आया। रॉनी डीपी चेक किया वहाँ कोई फ़ोटो नही थी फिर रॉनी ने मैसेज का रिप्लाई दिया लिखा "कौन"
उधर से रिप्लाई आया "रुही"
रॉनी को अब खुशी का कोई ठिकाना नही था। उसको लग रहा था की उसका सारा सपना सच हो गया। वो बाते करना शुरू कर दिया। रुही भी बोली की वो उसे पसंद करती है। दोनो अब घंटो बात करने लगे थे। रॉनी को उसके सपनो की राजकुमारी मिल गई थी वो उसे खुश करने के लिए हमेशा कुछ न कुछ करते रहता था जो रुही को भी बहुत अच्छा लगता था। दोनो के प्यार परबाने चढ़ रहे थे दोनो ने तो शादी तक कि बात सोच रखी थी दोनो अपने फैमिली में बात भी करने का प्लान बना रहे थे। फैमिली से भी ज्यादा दिक्कत नही आती क्योंकि दोनो का कास्ट भी समान था। रॉनी को तो बस यही लग रहा था की जल्दी से जॉब लू और उसे अपने घर लाऊ। 
अब तक 6 महीने बीत चुके थे पता नही क्यों लेकिन रॉनी को लग रहा था कि रुही कुछ बदली बदली सी लग रही है। इधर कुछ दिन से वो बिना बात के भी लड़ाई करने लगी है। रॉनी को ये सब अच्छा नही लग रहा था। वो रुही को मिलने के लिए बुलाया थोड़ा नखरा करने के बाद रुही मिलने को आ गई। दोनो बात चीत किये लेकिन रुही में बहुत बदलाव नज़र आ रहा था। रुही किसी बात से नाराज़ होके वहाँ से चली गई। रॉनी बहुत कॉल किया लेकिन वो न कॉल उठाई न मैसेज का जबाब ही दे रही थी। रॉनी को समझ नही आ रहा था कि क्या हो रहा है। एक कॉल के बदले 4 कॉल करने वाली आज कॉल तक नही उठा रही आखिर मैं किया क्या हूँ यही सब सोच सोच के रॉनी परेशान हो गया। 3  4 दिन बीत गया लेकिन रुही न कॉल की न मैसेज रॉनी बहुत कोशिश की बात करने को लेकिन रुही बात नही की वो सीधा जबाब दे दी वो अब बात करना नही चाहती है। रॉनी उसके यादो में खोया रहने लगा रात की नींद उड़ गई थी उसकी, कोई भी काम मे उसका मन नही लगता था। अब ऐसे ही कुछ महीने बीत चुके थे। एक दिन पता चला रॉनी को की रुही का उसके छोड़ने का कारण एक लड़का है। उस लड़के का नाम अमन था वो अच्छे घर का पैसे वाला था उसका जॉब भी होने वाला था। रुही को अमन से ऑनलाइन दोस्ती हुई थी। लेकिन रुही उससे प्यार करने लगी थी। रॉनी ये बात जानकर उसे बहुत ज्यादा दुख हुआ वो और भी टूट गया अब उसकी राते रोती हुई कटने लगी। उसके साथ बहुत बड़ा धोखा हुआ था। कुछ दिन रॉनी का हाल ऐसा ही रहा लेकिंन फिर वो अपने आप को सम्हाला और अपने पढ़ाई में लग गया। 
तकरीबन 6 महीने बाद रॉनी को एक नये नम्बर से कॉल आया। रॉनी ने कॉल उठाई उधर से एक लड़की की आवाज़ सुनाई दी "हेल्लो रॉनी"
वो रुही की आवाज़ थी, रॉनी के आंखों में आँसू आ गई उसकी सारे यादे ताज़ा हो गई थी। 
रॉनी चुप रहा वो कुछ नही बोला फिर उधर से रोते हुए आवाज़ आई "रॉनी बोलो न"
रॉनी ने रुही को रोता सुन वो पूछा क्या हुआ। 
तो रुही बोलना शुरू की उससे बहुत बड़ी गलती हो गई है। वो बोली कि वो एक गलत लड़के के जाल में फस गई हूँ प्लीज मेरा हेल्प करदो नही तो मैं मुँह दिखाने लायक नही रहूंगी, इतना बोल रुही जोर जोर से रोने लगी।
रॉनी ने उसे चुप करबाया और पूरा मामला पूछा तो रुही बताई की 
अमन से उसे ऑनलाइन दोस्ती हुई थी धीरे धीरे वो मुझे इम्प्रेस कर के मेरा दोस्ती को प्यार में बदल दिया। शुरू में तो वो बहुत अच्छा बर्ताब करता था, हमेशा खुश रखता था, जो बोलती थी वो ऑनलाइन पहुँचा देता था। मैं उसके साथ बहुत ज्यादा ही खुश थी। हम दोनो कभी सामने से मिलने नही थे लेकिन वीडियो कॉल पर बात बहुत बार हुई थी। लेकिन कुछ दिन के बाद अमन का बर्ताब बदल गया बहुत ज्यादा ही बदल गया था अब वो बात बात पर मुझे गाली देने लगा था। हमेशा मुझे हर्ट करने लगा था। वो मुझसे इतना गंदा बर्ताब करने लगा कि मुझे उससे नफरत होने लगी। मैं अब उससे दूर जाना चाहती थी। लेकिन वो मुझे नही जाने दे रहा था अब वो मुझे ब्लैकमेल करने लगा था दरसल मैं प्यार में इतना अंधी हो गई थी कि उसे कुछ पर्सनल फ़ोटो भी भेज दी थी। अब वो धमकी दे रहा है कि वो फ़ोटो इंटरनेट पर वायरल कर देगा अगर वो ऐसा किया तो मैं सुसाइड कर लुंगी।
रॉनी को ये सारी बाते सुनके बहुत गुस्सा आया लेकिन अभी गुस्से से कुछ नही होने वाला था।
रॉनी ने अपने दोस्त से मदद माँग उसके दोस्त के चाचा पुलिस के बड़े अफसर थे। पुलिस के मदद से अमन को गिरफ्तार किया गया। रुही की सारी प्राइवेट फ़ोटो डिलीट कर दी गई। अब रुही खुश थी लेकिन उसे बहुत ज्यादा अफसोस महसूस कर रही थी, वो एक कोयले के चलते अपना हीरा खो चुकी थी।


                THE END

कोई टिप्पणी नहीं

एक टिप्पणी भेजें

Don't Miss
© | All Rights Reserved
By- Prem Yadav With Pankaj Dhwaz Yadav